बिहार से बाहर फंसे मजदूर बिहार आने के लिए ऐसे करे बिहार वापसी रजिस्ट्रेशन , बनाए गए नए नोडल अधिकारी ।

अगर आप बिहार में निवास करने वाले हैं और आप इस भारत लॉक डाउन की वजह से किसी दूसरी राज्य में फंसे हुए हैं तो बिहार वापसी रजिस्ट्रेशन कर सकते हैं , इसके लिए बिहार सरकार के द्वारा कुछ नोडल अधिकारी के नंबर दिए गए हैं जिस पर संपर्क कर बिहार प्रवासी मजदूर बिहार आने के लिए आवेदन कर सकते हैं ।

भारत में लोक डाउन का तीसरा चरण लागू ।

कोरोना वायरस एक वैश्विक महामारी बन गई है और यह काबू से बाहर होता जा रहा है दिन प्रतिदिन कोरोनावायरस के मरीजों की संख्या बढ़ती जा रही है और आज भारत में इनकी संख्या 36000 के पार हो चुकी है । सरकार के द्वारा लॉक डाउन को 17 मई 2020 तक बढ़ा दिया गया है ऐसे में बिहार सरकार और बहुत सारे राज्य सरकार अपने स्तर पर दूसरे राज्य में फंसे कामगारों को एक मौका दे रही है कि वह अपने राज्य में आ सके ।

बिहार से बाहर फंसे मजदूरों को भी बिहार सरकार के द्वारा राहत दी गई है ऐसे में बिहार सरकार के द्वारा कुछ नए नोडल अधिकारी तैनात किए गए हैं । जो अलग-अलग राज्यों में फंसे बिहार के मजदूरों को राज्य वापस लाने में मदद करेंगे ।

बिहार आने के लिए करना होगा रजिस्ट्रेशन ।

अगर आप एक बिहार के स्थाई निवासी हैं और आप दूसरे राज्य में काम कर रहे थे और इस लॉक डाउन की वजह से आपके पास ना ही काम है और ना ही रोजी रोटी का कोई साधन तो आप अपने राज्य बिहार वापस आने के लिए बिहार वापसी रजिस्ट्रेशन कर सकते हैं । चुकी आप सभी को पता है पूरे भारत में Lockdown हैं ऐसे में आवागमन की व्यवस्था पूरी तरह से बंद की गई है ।

केंद्र सरकार से मिली छूट के अनुसार राज्य सरकार अपने स्तर पर कार्य कर रही है और ऐसे में बिहार सरकार के द्वारा कुछ नोडल ऑफिसर बनाए गए हैं जो अलग-अलग राज्य में फंसे बिहार के मजदूरों को अपने राज्य वापस लाने में मदद करेंगे । जिसकी जानकारी आप यहां नीचे देख सकते हैं । 👇👇

बिहार प्रवासी मजदूर बिहार आने के लिए ऐसे करें बिहार वापसी रजिस्ट्रेशन ।

गृह मंत्रालय के द्वारा बिहार पटना को एक आदेश जारी किया गया जिसके तहत बिहार के मजदूर जो दूसरे राज्य में फंसे हैं अपने राज्य वापस आने के लिए नोडल अधिकारी से संपर्क कर अपना रजिस्ट्रेशन करवा सकते हैं ।

नोट :- मजदूरों से किया गया आग्रह :- सरकार के द्वारा ऐसे मजदूरों से आग्रह किया गया है जो किसी दूसरे राज्य में फंसे हुए हैं उनके पास वहां रहने के लिए व्यवस्था है खाने पीने का पूरा साधन उपलब्ध है तो वह अभी उसी जगह पर रहे उनको बिहार लौटने की जरूरत नहीं है । साथ ही राज्य सरकार के द्वारा ऐसे मजदूर को यह जानकारी भी दी गई कि अगर वह दूसरे राज्य में फंसे हुए हैं उनकी हालात बहुत ही बदतर है तो वह अपने राज्य अपने घर लौट सकते हैं ऐसा करने के लिए उन्हें उस राज्य के नोडल अधिकारी से संपर्क करना होगा । नोडल अधिकारी की जानकारी हम आपको नीचे देंगे ।

बिहार के मजदूर किन-किन राज्यों में फंसे हैं और किन राज्यों से बाहर आ सकते हैं ।

बिहार सरकार के द्वारा अभी कुछ राज्य में फंसे मजदूरों के लिए राहत दी गई है और सरकार के द्वारा वहां के नोडल अधिकारी के नंबर भी जारी किए गए हैं जिनसे मजदूर संपर्क कर बिहार वापस आने के लिए बिहार वापसी रजिस्ट्रेशन कर सकते हैं ।

  • ➡️ दिल्ली , हिमाचल प्रदेश
  • ➡️ जम्मू ,कश्मीर ,लद्दाख
  • ➡️ पंजाब
  • ➡️ हरियाणा
  • ➡️ राजस्थान
  • ➡️ गुजरात
  • ➡️ उत्तराखंड
  • ➡️ उत्तर प्रदेश
  • ➡️ मध्य प्रदेश ,छत्तीसगढ़
  • ➡️ ओरिसा
  • ➡️ झारखंड
  • ➡️ पश्चिम बंगाल
  • ➡️असम ,मेघालय ,नागालैंड ,मणिपुर, त्रिपुरा,मिजोरम ,अरुणाचल प्रदेश और सिक्किम
  • ➡️ आंध्र प्रदेश, तेलंगाना

नोट :- ऊपर लिखित राज्यों में अगर आप फंसे हुए हैं तो आप यहां के नोडल अधिकारी से कॉल कर संपर्क कर सकते हैं और बिहार वापस लौटने का एक सटीक कारण देते हुए अपना बिहार वापसी रजिस्ट्रेशन कर सकते हैं ।

बिहार वापसी रजिस्ट्रेशन के लिए नोडल अधिकारी के नंबर आप नीचे इमेज के माध्यम से देख सकते हैं । 👇👇

नोट :- नोडल अधिकारी के नंबर पर आपको कॉल करना होगा अगर एक-दो बार में कॉल आपका नहीं कनेक्ट होता है तो समय रहते आप बार-बार प्रयास करें । नोडल अधिकारी से संपर्क होने के दौरान आपको बिहार के किस जिले से हैं इत्यादि की जानकारी देनी होगी अपना पूरा नाम और जिस राज्य में अभी फंसे हैं वहां का पता देना होगा ।

जैसे ही आप के फंसे हुए राज्य से बिहार के लिए कोई ट्रेन चलाई जाएगी आपको उसकी जानकारी रजिस्टर्ड मोबाइल नंबर पर एसएमएस के माध्यम से मिल जाएगी साथ ही अधिकारियों द्वारा आपसे संपर्क भी किया जाएगा जिसके पश्चात आपको बिहार आने के लिए अनुमति दे दी जाएगी और ट्रेन की टिकट भी आपको अधिकारी के द्वारा ही उपलब्ध कराया जाएगा ।

नोट :- इस पूरी प्रक्रिया में नोडल अधिकारी ही आपकी मदद करेंगे बिहार वापसी रजिस्ट्रेशन अभी ऑनलाइन नहीं हो रहा है अगर ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन की कोई व्यवस्था आती है तो इसकी जानकारी हम आपको अपनी वेबसाइट sarkardesk.in के माध्यम से सबसे पहले देंगे । (अब तक के लिए आप हमारी वेबसाइट sarkaridesk.inको बुकमार्क कर के रख सकते हैं )

ध्यान दें अगर आप बिहार के स्थाई निवासी हैं और ऊपर लिखित राज्यों में से किसी राज्य में फंसे हैं तो यथाशीघ्र अपने नोडल अधिकारी से संपर्क कर बिहार वापसी रजिस्ट्रेशन करें ।

नोट :- बिहार से बाहर फंसे मजदूरों के लिए वीआईपी पार्टी के द्वारा बिहार प्रवासी मजदूर सहायता योजना भी चलाई जा रही है जिसकी जानकारी आप यहां क्लिक कर ले सकते हैं । ↗️

ध्यान दें :- बिहार के मजदूर अगर दूसरे राज्य में फंसे हैं उनके पास उस राज्य में गुजर-बसर करने के लिए कोई व्यवस्था नहीं है तो जल्द से जल्द नोडल अधिकारी से संपर्क कर अपना बिहार वापसी रजिस्ट्रेशन करें । साथ ही ऐसे लोग जिनके पास दूसरे राज्य में भी रहने की व्यवस्था है उनके पास खाने-पीने का सुचारू साधन उपलब्ध है तो वह अभी उसी राज्य में रहे उन्हें कहीं आने जाने की जरूरत नहीं है । ( यह केवल एक गुजारिश है )

बिहार वापसी के बाद मजदूरों को 14 दिनों का क्वॉरेंटाइन में रहना होगा ।

बिहार प्रवासी मजदूर जब दूसरे राज्य से बिहार अपने गांव की ओर लौटेंगे तो उन्हें गांव में प्रवेश नहीं दिया जाएगा प्रवासी मजदूरों को गांव में प्रवेश से पहले 14 दिनों के लिए क्वॉरेंटाइन किया जाएगा

क्वॉरेंटाइन होने के बाद अगर मजदूरों में कोरोनावायरस के कोई लक्षण नहीं दिखाई देता है तब जाकर उन्हें अपने गांव में प्रवेश मिल पाएगा ।

नोट :- दोस्तों अगर आप बिहार के मजदूर हैं तो आपको बिहार सरकार के द्वारा बहुत सारे लाभ दिए जा रहे हैं जिसकी जानकारी हमने समय-समय पर अपनी वेबसाइट sarkaridesk.inके माध्यम से दी है तो आप हमारी वेबसाइट पर पिछले कुछ हफ्तों में किए गए पोस्ट को देखें इसमें बहुत सारी सरकारी योजनाएं दी गई है जो राज्य सरकार के द्वारा आप लोगों के लिए चलाई गई है ।

बिहार वापसी रजिस्ट्रेशन


Q 1. बिहार वापसी रजिस्ट्रेशन कैसे करें ?


बिहार वापसी रजिस्ट्रेशन अभी ऑनलाइन नहीं किया गया है इसके लिए आप जिसे भी राज्य में फंसे हुए हैं वहां बिहार सरकार के द्वारा तैनात किए गए नोडल अधिकारी से संपर्क करना होगा । नोडल अधिकारी से किस प्रकार संपर्क करना है और नोडल अधिकारी का नंबर क्या है इसकी जानकारी हमने इस पोस्ट के ऊपर में आपको दी है ।


Q 2. बिहार वापसी के लिए ट्रेन टिकट कैसे बुक करें ?


बिहार वापसी के लिए आपको फिलहाल कोई ट्रेन टिकट बुक करने की जरूरत नहीं है बस बिहार वापसी के लिए आपको अपने नोडल अधिकारी से संपर्क करना है और नोडल अधिकारी आपसे जानकारी लेगा और आपका बिहार वापसी रजिस्ट्रेशन कर देगा । आप जिस राज्य में फंसे हैं उस राज्य से बिहार के लिए जब ट्रेन चलाई जाएगी उस ट्रेन की जानकारी आपको नोडल अधिकारी के द्वारा मोबाइल नंबर पर एसएमएस के माध्यम से भेजा जाएगा साथ ही स्टेशन पहुंचने के बाद आपको टिकट भी नोडल अधिकारी के द्वारा प्रदान किया जाएगा ।


Q 3. बिहार वापसी ट्रेन टिकट के लिए पैसे भी देने होंगे ?


प्रवासी मजदूर वापसी को बिहार वापसी के लिए कोई भी पैसा नहीं देना होगा यह राज्य सरकार के द्वारा पूरी तरह से मुफ्त रहेगी ।


Q 4. क्या बिहार वापसी के फौरन बाद गांव में प्रवेश मिल जाएगा ?


नहीं अगर आप बिहार प्रवासी मजदूर हैं और बिहार वापसी रजिस्ट्रेशन के बाद आप बिहार चले भी जाते हैं तो आपको अपने गांव में फौरन प्रवेश नहीं मिल पाएगा । गांव की सीमा पर जाने के बाद आपको 14 दिनों के लिए क्वॉरेंटाइन में रखा जाएगा , इस 14 दिनों के क्वॉरेंटाइन को पूरा करने के बाद ही आप अपने घर लौट पाओगे ।


Q 5. 14 दिनों के क्वॉरेंटाइन में आपको सभी सुविधा कहां से मिलेगी ?


जब आप बिहार वापसी रजिस्ट्रेशन के बाद बिहार की ओर लौटते हैं तो आपको अपनी गांव के सीमा रेखा पर 14 दिनों के लिए क्वॉरेंटाइन किया जाता है इस अवधि में आपकी जितनी भी जरूरत होती है या जो भी सुविधाओं की आवश्यकता होती है सभी गांव के मुखिया के द्वारा पूरी की जाएगी ।

नोट :- दोस्तों आज के इस आर्टिकल में आपने बिहार वापसी रजिस्ट्रेशन कैसे करना है इसकी जानकारी प्राप्त की इस आर्टिकल को बिहार के बाहर फंसे सभी मजदूरों के पास भेज दें ताकि समय रहते वह अपने घर लौट सके ।

अगर आपको हमारे द्वारा दी गई यह जानकारी पसंद आई है तो इसे लाइक और शेयर जरूर करें ऐसे ही आर्टिकल हम रोजाना अपनी वेबसाइट sarkaridesk.in के माध्यम से देते हैं तो आप हमारी वेबसाइट को फॉलो करना ना भूलें । प्रवासी मजदूर वापसी प्रवासी मजदूर वापसी प्रवासी मजदूर वापसी

नोट :- इस आर्टिकल को अंत तक पढ़ने के लिए धन्यवाद…

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*